Some Secrets…

इक बात होंटो तक है जो आई नहीं
बस आँखों से है झाँकती
तुमसे कभी, मुझसे कभी
कुछ लफ्ज़ हैं वो मांगती

जिनको पेहन्के होंटो तक आ जाए वो
आवाज़ की बाहों में बाहें डालके इठलाए वो
लेकिन जो यह इक बात है
अहसास ही अहसास है

खुश्बू सी है जैसे हवा में तैरती
खुश्बू जो बे-आवाज़ है
जिसका पता तुमको भी है
जिसकी खबर मुझको भी है

दुनिया से भी चूपता नहीं
यह जाने कैसा राज़ है

– Javed Akhtar, Zindagi Milegi Na Dobara

About these ads

One Comment on “Some Secrets…

  1. This one is my favorite from the movie… :)

    जब जब दर्द का बादल छाया

    जब ग़म का साया लहराया

    जब आँसू पलकों तक आया

    जब यह तन्हा दिल घबराया

    हमने दिल को यह समझाया

    …दिल आखिर तू क्यूँ रोता है

    दुनिया में यूँही होता है

    यह जो गहरे सन्नाटे हैं

    वक़्त ने सबको ही बांटे हैं

    थोडा ग़म है सबका किस्सा

    थोड़ी धुप है सबका हिस्सा

    आँख तेरी बेकार ही नम है

    हर पल एक नया मौसम है

    क्यूँ तू ऐसे पल खोता है

    दिल आखिर तू क्यूँ रोता है

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Follow

Get every new post delivered to your Inbox.

Join 74 other followers

%d bloggers like this: